तयम्मुम करने का तरीका | Tayammum in Hindi

दुसरो को भेज के सवाब हासिल करें

tayammum-karne-ka-tarika-1

जब तक लगभग 2 किलोमीटर तक पानी ना मिले या फिर पानी का इस्तेमाल करना मुमकिन ना हो, या फिर किसी बीमारी की वज़ह, किसी दुश्मन का खोफ हो तो तयम्मुम करना जायज़ है।

तयम्मुम किन चीज़ो पर किया जा सकता है 

तयम्मुम इन चीज़ो से किया जा सकता है -:

  • पाक मिट्टी 
  • रेत 
  • पत्थर 
  • चुना 
  • मिट्टी के कच्चे बर्तन जिन में तेल ना लगा हो 
  • कच्ची, पक्की ईंटो या फिर चुने की दिवार 
  • गेरो 
  • मुल्तानी मिट्टी 

तयम्मुम करने का तरीका 

पाक साफ करने की नियत करके सभी  उंगलियों  से पहले दोनों हाथ पाक मिट्टी पर मल कर सारे मुँह पर इस तरह मले की कोई हिस्सा बाकी ना रहे। 

फिर दूसरी बार दोनों हाथों को मिट्टी पर मारकर हाथों पर इस तरह मला जाये कि कोहनियों तक कोई जगह बाकि ना रहे। 

उंगलियों का और दाढ़ी का खलाल भी किया जाये। 

तयम्मुम में फ़र्ज़ 

तीन है मतलब वो काम जिन की बिना तयम्मुम नहीं होता -:

  • पाकी हासिल करना,
  • पाक मिट्टी पर दोनों हाथ मारकर सारे चहरे पर फेरना,
  • दूसरी बार फिर दोनों हाथ मिट्टी पर मरकर कोहनियों तक दोनों हाथ का मसह करना। 

तयम्मुम में सुन्नत 

छः हैं मतलब वो काम जिन के बिना तयम्मुम तो हो जाता है लेकिन सबाब हासिल नहीं होता :-

  • शुरू में बिस्मिल्लाह पढ़ना 
  • तरतीब कायम रखना 
  • पे दर पे करना 
  • दोनों हाथ मिट्टी में पूरी तरह रखने के बाद खींचना 
  • फिर दोनों हाथ को झाड़ना 
  • दोनों हाथ की उंगलियों को खुला खुला रखना

तयम्मुम टूटने वजह 

तीन वजह से तयम्मुम  टूट जाता है :-

  • जिन चीज़ो से वज़ू टूट जाता है 
  • जिस लिए तयम्मुमकिया था वो वजह ख़तम हो जाना 
  • पानी मिल जाना 

तयम्मुम की शर्ते 

मतलब वो चीज़े जिन का पाया जाना तयम्मुम  ज़रूरी हैं :-

  • तयम्मुम करने की वजह होना 
  • जिस चीज़ से किया जाये वो पाक होना 
  • तयम्मुम के हिस्से में अच्छे तरीके से हाथ फेरना 
  • पुरे  हाथ या तीन उंगलियों से करना 
  • हाथ ज़मीन पर हथेलियों की टतरफ  मारना 
  • जिस चीज़ से तयम्मुम कर रहे हो उस में मोम, चर्बी तेल जैसे चीज़े ना लगा होना। 

(वज़ू और गुसल दोनों के लिए तरीका एक ही है, दोनों में कोई फर्क नहीं हैं)


दुसरो को भेज के सवाब हासिल करें

Leave a Comment